लालकिला 25 करोड़ में डालमिया ग्रुप का हुआ ,अब अगली डील ताजमहल- Helpless Minority

लालकिला 25 करोड़ में डालमिया ग्रुप का हुआ ,अब अगली डील ताजमहल

Delhi-red-fort-images

लालकिला 25 करोड़ में डालमिया ग्रुप का हुआ

लालकिला को एक बड़े कॉरपोरेट हाउस डालमिया ग्रुप ने अपना बना लिया है। देश के इस ऐतिहासिक धरोहर को संवारने की खातिर डालमिया ग्रुप ने की 25 करोड़ डील की है। इस तरह ये ऐतिहासिक स्मारक गोद में लेने वाला भारत का ये पहला कॉर्पोरेट हाउस बन गया है। तो आइए जानते हैं कि आखिर क्यों हुई है ये डील।

जानकारी के मुताबिक डालमिया ग्रुप संभवत: 23 मई से काम भी शुरू करने की प्रक्रिया में जुट जाएगी। इस में यह खाका तैयार होगा कि कैसे लाल किले का विकास हो। हालांकि 15 अगस्त के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण से पहले जुलाई में डालमिया ग्रुप को लालकिला फिर से सिक्योरिटी एजेंसियों को देना होगा। इसके बाद ग्रुप एकबार फिर से लाल किले को अपने हाथ में ले लेगा।

डालमिया ग्रुप ने ये कॉन्ट्रैक्ट इंडिगो एयरलाइंस और जीएमआर ग्रुप को हराकर जीता है।

मीडिया सोर्स के मुताबिक ये कॉन्ट्रैक्ट सरकार की ऐतिहासिक स्मारकों को गोद देने की स्कीम ‘एडॉप्ट ए हेरिटेज’ का हिस्सा है।

लालकिला के कॉन्ट्रैक्ट को लेकर डालमिया भारत ग्रुप, टूरिज्म मिनिस्ट्री, आर्कियोलॉजी सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) के बीच बीते 9 अप्रैल को डील हुई। कॉन्ट्रैक्ट के मुताबिक ग्रुप को 6 महीने के भीतर लाल किले में बेसिक सुविधाएं देनी होंगी। ‘

एक साल के भीतर इसे टेक्सटाइल मैप, टायलेट अपग्रेडेशन, रास्तो पर लाइटिंग, बैटरी से चलने वाले व्हीकल, चार्जिंग स्टेशन और एक कैफेटेरिया बनाना होगा। इसके लिए डालमिया ग्रुप टूरिस्ट से पैसे चार्ज कर सकेगा। इसमें पीने के पानी की सुविधा, स्ट्रीट फर्नीचर जैसी सुविधा शामिल हैं। ग्रुप को जितना पैसा मिलेगा उसे वो पैसा फिर से लाल किले के विकास पर ही लगाना होगा। इसके अलावा ग्रुप लाल किले के भीतर अपनी ब्रांडिंग का उपयोग कर सकेगा।

लाल किला के बाद ‘एडॉप्ट ए हेरीटेज’ के तहत जल्द ही ताजमहल को गोद लेने की प्रक्रिया भी पूरी हो जाएगी। ताज महल को गोद लेने के लिए जीएमआर स्पोर्ट्स और आईटीसी अंतिम दौर में है। दरअसल, सरकार ने ‘एडॉप्ट ए हेरीटेज’ स्कीम सितंबर 2017 में लॉन्च की थी। देश भर के 100 ऐतिहासिक स्मारकों के लिए ये स्कीम लागू की गई है। इसमें ताजमहल, कांगड़ा फोर्ट, सती घाट और कोणार्क मंदिर जैसे कई प्रमुख स्थान हैं।

Lalkila has made a major corporate house by Dalmia Group. Dalmiya Group has 25 crore deals for the sake of grooming this historic heritage of the country. In this way, this historic monument has become India’s first corporate house. So let’s know why this deal has happened.

Dalmia bharat group Bid shahjahan iconic red fort in delhi

According to the information, the Dalmiya group may probably be in the process of starting the work from May 23. In this, this template will be ready for the development of the Red Fort. However, in July before the Prime Minister Narendra Modi’s speech on August 15, the Dalmiya group will have to redistribute security to the security agencies. After this, the group will once again take the Red Fort in their hands.

Dalmia Group has won this contract by defeating Indigo Airlines and GMR Group. According to media sources, this contract is part of the ‘Adopt A Heritage’ scheme to adopt the government’s historic monuments.

Dalmiya Bharat Group, Tourism Ministry, Archeology Survey of India (ASI) deals on Lalkila’s contract on 9th April. According to the contract, the group will have to provide basic facilities in the Red Fort within 6 months. ‘

Within one year, it will have to make textile map, toilet upgrade, lighting on road, battery-operated vehicle, charging station and a cafeteria. For this, Dalmia Group will charge money from tourists. This includes facilities like drinking water, street furniture, and so on. The amount of money the group will have to get it back to the development of the Red Fort. Apart from this, the group will be able to use its branding within the Red Fort.

After the red fort, adoption of the Taj Mahal will be completed soon under ‘Adopt A Heritage’. For adoption of Taj Mahal, GMR Sports and ITC is in the final stages. In fact, the government launched ‘Adopt A Heritage’ scheme in September 2017. This scheme has been implemented for 100 historical monuments across the country. There are many prominent places like Taj Mahal, Kangra Fort, Sati Ghat and Konark Temple.

Trending Topic

1,303 total views, 1 views today

0Shares
0 0 0